Home / प्रसिद्ध भजन

प्रसिद्ध भजन

माता कूष्माण्डा की आरती

माँ कुष्मांडा

माता कूष्माण्डा की आरती कुष्मांडा जय जग सुखदानी मुझ पर दया करो महारानी पिंगला ज्वालामुखी निराली शाकम्बरी माँ भोली भाली लाखो नाम निराले तेरे भगत कई मतवाले तेरे भीमा पर्वत पर है डेरा स्वीकारो प्रणाम ये मेरा संब की सुनती हो जगदम्बे सुख पौचाती हो माँ अम्बे तेरे दर्शन का …

Read More »

हनुमान जी की आरती

हनुमान जी की आरती

हनुमान जी की आरती  आरती कीजै हनुमान लला की, दुष्ट दलन रघुनाथ कला की। जाके बल से गिरिवर कांपे, रोग दोष जाके निकट न झांपै। अंजनिपुत्र महा बलदायी, संतन के प्रभु सदा सहाई। दे बीरा रघुनाथ पठाये, लंका जारि सिया सुधि लाये। लंका-सो कोट समुद्र-सी खाई, जात पवनसुत बार न …

Read More »

माता चंद्रघंटा की आरती

माता चंद्रघंटा

माता चंद्रघंटा की आरती जय माँ चन्द्रघंटा सुख धाम। पूर्ण कीजो मेरे काम॥ चन्द्र समाज तू शीतल दाती। चन्द्र तेज किरणों में समाती॥ क्रोध को शांत बनाने वाली। मीठे बोल सिखाने वाली॥ मन की मालक मन भाती हो। चंद्रघंटा तुम वर दाती हो॥ सुन्दर भाव को लाने वाली। हर संकट …

Read More »

माता ब्रह्मचारिणी की आरती

माता ब्रह्मचारिणी की आरती

माता ब्रह्मचारिणी की आरती जय अंबे ब्रह्माचारिणी माता। जय चतुरानन प्रिय सुख दाता। ब्रह्मा जी के मन भाती हो। ज्ञान सभी को सिखलाती हो।। ब्रह्मा मंत्र है जाप तुम्हारा। जिसको जपे सकल संसारा।। जय गायत्री वेद की माता। जो मन निस दिन तुम्हें ध्याता।। कमी कोई रहने न पाए। कोई …

Read More »

माता शैलपुत्री की आरती

माता शैलपुत्री की आरती

माता शैलपुत्री की आरती माता शैलपुत्री बैल असवार। करें देवता जय जयकार। शिव शंकर की प्रिय भवानी। तेरी महिमा किसी ने ना जानी। पार्वती तू उमा कहलावे। जो तुझे सिमरे सो सुख पावे। ऋद्धि-सिद्धि परवान करे तू। दया करे धनवान करे तू। सोमवार को शिव संग प्यारी। आरती तेरी जिसने उतारी। …

Read More »

लक्ष्मी जी के भजन

lakshmi ji ke bhajan

Lakshmi Ji Ke Bhajan ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता । तुमको निशिदिन सेवत, हरि विष्णु विधाता ॥ ॐ जय लक्ष्मी माता ॥ उमा, रमा, ब्रह्माणी, तुम ही जग-माता । सूर्य-चन्द्रमा ध्यावत, नारद ऋषि गाता ॥ ॐ जय लक्ष्मी माता ॥ दुर्गा रुप निरंजनी, सुख सम्पत्ति दाता । …

Read More »

राम जी के भजन

राम जी के भजन

राम जी के भजन हम राम जी के, राम जी हमारे हैं वो तो दशरथ राज दुलारे हैं मेरे नयनो के तारे हैं सारे जग के रखवारे हैं मेरे तो प्राण अधारे हैं हम राम जी के, राम जी हमारे हैं सब भगतन के रखवारे हैं जो लाखो पापीओं को …

Read More »

Hanuman Chalisa

hanuman-chalisa

Hanuman Chalisa दोहा : श्रीगुरु चरन सरोज रज, निज मनु मुकुरु सुधारि। बरनऊं रघुबर बिमल जसु, जो दायकु फल चारि।। बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरौं पवन-कुमार। बल बुद्धि बिद्या देहु मोहिं, हरहु कलेस बिकार।। चौपाई : जय हनुमान ज्ञान गुन सागर। जय कपीस तिहुं लोक उजागर।।   रामदूत अतुलित बल धामा। …

Read More »

साईं बाबा जी के भजन

साईं बाबा जी के भजन

साईं बाबा जी के भजन शिर्डीवाले साईंबाबा, आया है तेरे दर पे सवाली ओ मेरे साईं देवा, तेरे सब नाम लेवा। जुदा इन्सान सारे, सभी तुझको हैं प्यारे॥ सुने फ़रियाद सबकी, तुझे है याद सबकी। बड़ा या कोई छोटा, नहीं मायूस लौटा॥ अमीरों का सहारा, गरीबों का गुज़ारा। तेरी रहमत …

Read More »

Aarti Kunj Bihari Ki

Aarti Kunj Bihari Ki

Aarti Kunj Bihari Ki आरती कुंजबिहारी की, श्री गिरिधर कृष्णमुरारी की। गले में बैजंती माला, बजावै मुरली मधुर बाला। श्रवण में कुण्डल झलकाला, नंद के आनंद नंदलाला। गगन सम अंग कांति काली, राधिका चमक रही आली। रतन में ठाढ़े बनमाली; भ्रमर सी अलक, कस्तूरी तिलक, चंद्र सी झलक; ललित छवि …

Read More »